थायरॉयड की अनदेखी पड़ न जाये खुशियों पर भारी (what is thyroid, thyroid causes, thyroid symptoms)

थायरॉयड की अनदेखी पड़ न जाये खुशियों पर भारी


संतान का सुख हर कोई चाहता है, पर कभी कभी कुछ लापरवाहियों के कारण छोटी सी समस्या बड़ा रूप धारण कर लेती है. थायरॉयड का सम्बन्घ अमूमन हम मोटापे या बहुत कम वजन से जोड़ते है. पर क्या आप जानते है की गर्भ धारण न कर पाने की एक वजह थायरॉयड भी है ? थायरॉयड कैसे प्रभावित कर सकती है आपकी खुसियो को आइये जानते है, 
what is thyroid, thyroid causes, thyroid symptom

थायरॉयड से ग्रसित होने की आशंका महिलाओ में पुरुषो से चार गुना ज्यादा होती है. डॉक्टरों का मानना है की इस बीमारी को नजरअंदाज करना सही नहीं है. समय रहते इसका इलाज शुरू कर देना चाहिए  थायरॉयड एक छोटी सी ग्रंथि होती है और शरीर के मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित करती है. यानी जो भोजन हम खाते है यह उसे ऊर्जा में बदलने का काम करती है. इसके अलावा यह ह्रदय , मांसपेशियों, हड्डियों, व कोलेस्ट्रॉल को भी प्रभावित करती है.  जब थायरॉयड ग्रंथि ठीक प्रकार से काम नहीं करती , तो थायरॉयड सम्बन्धी बीमारियां होने लगती है. जब थायरॉयड ग्रंथि पर्याप्त मात्रा में हार्मोन नहीं बना पाती  तो शरीर ऊर्जा का उपयोग कम मात्रा में करने लगता है. इस स्थिति  को हाइपोथायरॉयडिजम कहते है. इस बीमारी में वजन अचनाक से बढ़ जाता है. रोजाना की गतिविधियों में रूचि काम हो जाती है. ठण्ड बहुत महसूस होती है. कब्ज होने लगता है. आंखे  सूज जाती है. मासिक चक्र अनियमित हो जाता है. त्वचा सूखी व बाल  बेजान होकर झड़ने लगते है. सुस्ती महसूस होती है. पैरो में ऐठन की शिकायत होती है, जोड़ो में पानी भर जाता है जिससे दर्द होता है. और चलने में दिक्कत होती है. मांसपेसियों में भी पानी भर जाता है, जिससे चलने फिरने में हल्का दर्द पुरे शरीर को होता है. चेहरा सूज जाता है. वही थायरॉयड ग्लैंड ज्यादा सक्रिय हो जाता है. उसे हाइपो थायरॉयड कहते है . इस स्थिति में वजन अचानक से कम हो जाता है. अत्यधिक पसीना आता है. ये रोगी गर्मी सहन नहीं कर पाते. भूख बहुत लगती है और मांसपेशिया कमजोर हो जाती है. निराशा हावी हो जाता है. धड़कन बढ़ जाती है. नीड नहीं आती, दस्त होता है. प्रजनन प्रभावित होता है. पीरियड्स ज्यादा और अनियमित हो जाता है. गर्भपात के मामले सामने आते है. 


क्या है कारण - 

- थायरॉयड का एक कारण तनाव है. जब तनाव का स्तर बढ़ता है तो             इसका ज्यादा असर हमारी थायरॉयड ग्रंथि पर पड़ता है. यह ग्रंथि हार्मोन     के स्राव को बढ़ा देती है. 

- कई बार कुछ दवाओं के प्रतिकूल प्रभाव से भी थायरॉयड हो सकता है.

- भोजन में आयोडीन की कमी या फिर नमक का ज्यादा इस्तेमाल भी          थायरॉयड की समस्या पैदा करता है. 

- परिवार में किसी को थायरॉयड की समस्या है तो आपको थायरॉयड होने    की आशंका ज्यादा रहती है. 

- ग्रेव्स रोग थायरॉयड का बड़ा कारण है. इसमें थायरॉयड ग्रंथि से                थायरॉयड हार्मोन का स्राव बहुत अधिक बढ़ जाता है. ग्रेव्स रोग ज्यादातर    20  और 40  की उम्र के बीच की महिलाओ को प्रभावित करता है. 

- महिलाओ में पीरियड्स भी थायरॉयड का कारण है क्योकि पीरियड्स        परिवर्तन होते है. जो कई बार थायरॉयड की वजह बन जाती है.


ऐसे बचे थायरॉयड से - 

थायरॉयड की समस्या में आयोडीन की भूमिका महत्वपूर्ण होती है. खाद्य पदार्थ जिनमे प्रचुर मात्रा में बिटामिन डी पाया जाता हो जैसे मछली , अंडे , दूध, और मशरूम का सेवन पर्याप्त मात्रा में करना चाइये. 

सेलेनियम एक ऐसा आवश्यक सूछ्म तत्व है जिस पर शरीर की रोग प्रतिरोधक छमता सहित प्रजनन आदि अनेक छमता निर्भर करती है. अतः भोजन में प्रयाप्त मात्रा में अखरोट , बादाम, जैसे मेवों को शमिल करे. इनमे सेलेनियम होता है. 

व्यायाम हाइपो थायरॉयड और हायपर थायरॉयड दोनों ही स्थितयो में आवश्यक मन गया है. इससे वजन बढ़ना, थकान, और अवसाद जैसी स्थितियों से बचने में काफी मदद मिलती है. 


समय पर जांच बेहद जरुरी-

थायरॉयड के दोनों प्रकार में रक्त की जांच पहले की जाती है . विवाह के बाद और गर्भावस्था के दौरान महिलाओ को थायरॉयड की जांच जरूर करवानी चाइये. इससे गर्ववती और गर्वस्थ शिशु को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आएगी. थायरॉयड के नब्बे प्रतिशत रोगियों को उम्र भर दवा खानी पड़ती है. किन्तु पहले चरण में उपचार करा लेने से महिलाओ के शेष जीवन की दिनचर्या आसान हो जाती है. मरीज पूरी तरह ठीक हो सकता है. ऐसे मरीज तनाव से बचे और हाइपो थायरॉयड है तो आयोडीन की अधिकता वाले खाद्य पदार्थ से जीवन भर बचे. थायरॉयड की बीमारी पुरुषो व बच्चो को भी हो सकती है . यह वंशानुगत होने वाली बिमारिओ में से एक है.  
thyroid test

थायरॉयड को जड़ से ख़तम करने का उपाय बता रहे है बाबा राम देव जी जरूर पढ़े 
https://www.newsandtip.com/2018/11/blog-post_27.html
SHARE

Milan Tomic

Hi. I’m Designer of Blog Magic. I’m CEO/Founder of ThemeXpose. I’m Creative Art Director, Web Designer, UI/UX Designer, Interaction Designer, Industrial Designer, Web Developer, Business Enthusiast, StartUp Enthusiast, Speaker, Writer and Photographer. Inspired to make things looks better.

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment