नपुंसकता, नामर्द ,स्वप्नदोष, शीघ्रपतन, सेक्स ना करने की इच्छा, सेक्स कमजोरी को हमेसा के लिए जड़ से दूर करे- बाबा राम देव जी

यौन दुर्बलता का रामबाण उपचार 

napunsakta

हमेसा वासना में घिरे रहना - 

सेक्सुअल डिसऑर्डर्स सेक्स की समस्या इससे आज कल के युवा 
बहुत परेशान है 

जवानी में ही बहुतो को बुढ़ापा आ जाता है 

कोका कोला पेप्सी कॉफी चाय और तमाम गरम चीज़े खा खा करके  

मांसाहार करके और उत्तेजक दृस्य देख करके उत्तेजक गाने सुन सुन करके चारो तरफ वासना मय वातावरण है 

कम उम्र में ही फिर अश्लीलता और तमाम वासनात्मक वातावरण 

इन सब के बिच में व्यक्ति की शक्ति कमजोर पड़  जाती है और 

पेशाब के साथ में चिकना चिकना पदार्थ का निकलना 
स्वप्नदोष आदि की समस्या होना

और फिर जब विवाह का वक़्त आता है तो फिर योन दुर्बलता फिर 

किसी को स्पर्म काउंट की कमी और तमाम तरह की विसमताओं से जूझना पड़ता है 

योग करे-- 

धातु रोको के लिए योन रोगो के लिए कपाल भाति  और अनुलोम विलोम प्राणायाम करे 

कपालभाति १५ २० मिनट से लेकर के आधा घंटा तक करना चाइये 

धातु रोग के नामोनिशान नहीं रहेगा किसी भी तरह की योन दुर्बलता 

नहीं रहेगी आपको किसी सेक्स प्रॉब्लम डॉक्टर्स के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे 

और तमाम तरह के जो केमिकल दवाइया खाते है अपने योन शक्ति 

को बढ़ाने के लिए शारीरिक दुर्बलता को दूर करने के लिए इन सब चक्करो में आप नहीं पड़ेंगे फिर....

आयुर्वेदिक उपचार 

अस्वगंधा शतावर सफ़ेद मूली कौंच के बीज इनका मिश्रण बना के 

पाउडर कर ले  अस्वगंधा शतावर सफ़ेद मूली कौंच के बीज १००-१०० 

ग्राम ले लिए इसका पाउडर कर लिया 

१-१ चम्मच सुबह साम दूध के साथ इसका सेवन करे 

दूध के साथ ३से ५  कजूर लेले,  दूध के साथ एक डली गुड़ का सेवन कर ले इससे योन रोगो से आप बच जाते है 

कपाल भाति आधा आधा घंटा करे और किसी भी तरह का योन रोग 

फिर आपको हो ही नहीं सकता और यदि स्पर्म काउंट की कमी है तो 

वो भी ठीक हो जाएगी,  योन दुर्बलता भी दूर हो जाएगी..

आप इसके लिए चंद्र प्रभा वटि १-१ गोली 

योनामृत २-२ गोली 

शिलाजीत रसायन १ से २ गोली खा सकते है शिलाजीत वैसे भी योन 

रोगो से ले कर के तमाम तरह के शारीरक दुर्बलताओं को दूर करने में मदद करती है.. 

चंद्र प्रभा वटि १-१ गोली 

योनामृत २-२ गोली 

शिलाजीत रसायन १ से २ 

सुबह साम दूध के साथ सेवनं करने से तो किसी भी तरह के धातु रोग नहीं होंगे.....


और आसनो में शीर्षासन सर्वांगासन ये योन रोगो के लिए बहुत 

उपयुक्त होता है 

सुबह सुबह उठ करके सूर्य नमस्कार करना, जग्गिंग करना, दंड 
बैठक लगाना.....    

और दौड़ लगाना, तैरना इनसे भी आप योन रोको से बच जायेंगे 

सुबह उठ करके प्रभु का समरण किया करे गायत्री मंत्र का जप किया 

करे और अश्लीलता से बचे उत्तेजक दृश्यों से बचे और जीवन में 

सदाचार का पालन करे तो निश्चित रूप से आपको यौनरोग नहीं होगा.....

                                            धन्यबाद 
SHARE

Milan Tomic

Hi. I’m Designer of Blog Magic. I’m CEO/Founder of ThemeXpose. I’m Creative Art Director, Web Designer, UI/UX Designer, Interaction Designer, Industrial Designer, Web Developer, Business Enthusiast, StartUp Enthusiast, Speaker, Writer and Photographer. Inspired to make things looks better.

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment